मेरे पसंदीदे तोते पर निबंध 2021 | My Favourite Bird Parrot Essay In Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज आपको तोते पर निबंध अर्थात my favourite bird parrot essay in hindi के बारे में लिख के बताऊंगा। मैं आप सबको आज इस विषय पर 100 300 और 500 शब्दों में निबंध लिख कर दूंगा। essay on my favourite bird parrot in hindi का यह विषय हमारे स्कूल में अत्यधिक लिखने को दिया जाता है इसलिए मैं आपको इस विषय पर निबंध लिखकर दे रहा हूं।

मेरे पसंदीदे तोते पर निबंध | my favourite bird parrot essay in hindi in 100,300 and 500 words

100 शब्दो में मेरे पसंदीदे तोते पर निबंध | essay on my favourite bird parrot in hindi in 100 words

तोता एक सुंदर है। रंग का प्रकार हरा है। इसकी चोंच लाल और घुमावदार होती है। गले पर लाल धारी। पीपत पेड़ पर है। न्याय और मिर्च प्यार करता है। वह मीठा बोलता है। तोते को सब कुछ पसंद है। तोता बहुत होशियार है। तोते नकल करने में बहुत अच्छा लगता है।
तोते 3 से 40 वर्षद तक रहता है। वह कई जानवरों, छींटे और दिमाग की नकल भी कर सकता है। इसलिए यह छोटे बच्चों को बहुत पसंद आता है। आसमान में तोतो के झुंड कितने खूबसूरत लगते हैं। इन सब के कारण तोता मेरा प्रिय पक्षी है

300 शब्दो में मेरे पसंदीदे तोते पर निबंध | essay on my favourite bird parrot in hindi in 300 words

तोता एक बहुत ही सुंदर और रंग-बिरंगी चिड़िया है।अच्छे और नग्न कई प्रकार के होते हैं। इनके शरीर का रंग हरा होता है। इसकी लाल घुमावदार चोंच होती है। तोते छोटे बच्चों से बहुत प्यार करता है। वह एक पेड़ के तने पर आराम करता है। तोता मीठा बोलने वाला है, इसलिए वह बहुत लोकप्रिय है।

पिंजरे में कैद होना गैस के मीठे बोल कहने जैसा है। गर्दन की अंगूठी का रंग क्या है तोते आमतौर पर 12 से 14 इंच लंबे होते हैं। वह शाकाहारी है। फल, पानी,दाने और पके हुए चावल खाती है। उन्हें मिर्च, दाल और कच्चे फल पसंद हैं। चरी का अर्थ है समूह एकता। अभी भी सभी संगठनों के बीच एक बहुत ही नासमझ कर पक्षी है। वे विभिन्न जानवरों और पृथ्वी की आवाज़ की नकल करते हैं। यह 30 साल तक जीते है।

जब कठपुतलियों का एक समूह आता है तो यह देखना एक सुंदर दृश्य होता है। तोते यहाँ है इसलिए, जिन्हें सिखाया जाता है कि यह भाषा कहना आसान है। इसे ताल का पंडित कहा जाता है। भारत में लोग उन्हें राम राम, सीताराम, नमस्ते और परिचय परिचय जैसे शब्द सिखाते हैं। वह मन की आवाज की नकल कर सकता है। बहुत से लोग व्यायाम करना सीखते हैं। संगपारा के लोगों और सर्कुलर मिडी वर्क के लिए भविष्य अनुकूल है। वह सभी का मनोरंजन करते हैं।

तोते ने बेहद खूबसूरत अहेतिया की सुरक्षा के लिए एक राष्ट्रीय उद्यान इकाई की स्थापना की है। कुल माने तोते पिंजरा अनुबंध लेकिन चलो इसे इतना दंडिन दया करते हैं। हमारी तरह उसे भी आज़ादी पसंद है। और अगर तोते को आसमान में उड़ना पसंद है, तो आप उन्हें क्यों रखना चाहते हैं? . इसलिए हमें घोंसलों को रखना चाहिए ना की पिंजरे में बंद कर देना चाहिए।मनुष्य अपने जीवन के लिए पेड़ो की कटाई और वनों की कटाई कर रहा है। हमें उनका समाधान निकालना होगा। नहीं तो हमे आपकी नाक तक देखने को नहीं मिलेगी।

इसे भी पढ़े : My Mother Essay In Hindi

500 शब्दो में मेरे पसंदीदे तोते पर निबंध | my favourite bird parrot essay in hindi in 500 words

तोते प्रकृति के सबसे खूबसूरत पक्षियों में से एक हैं। तोता छोटे से लेकर बड़े तक सभी से परिचित है। यह पूरी तरह से शिकारी पक्षी है। इसका भोजन अनार, अमरूद, अंजीर, हरी मिर्च, ज्वार, गेहूं, बाजरा आदि है। जंगल में तोतों का झुंड फसलों पर अनाज उठाता है तोते मीठी आवाज निकालते हैं। तोते अपना घोंसला पेड़ों की बड़ी टहनियों या पुराने घरों की दरारों में बनाते हैं। मादा घोंसले में एक बार में चार से छह अंडे देती है। चूंकि तोते देखने में अच्छे होते हैं, इसलिए लोग इन्हें खुशी-खुशी अपने घरों में पिंजरों में रखते हैं।

तोता पीले रंग के साथ हरे रंग का होता है इसकी पूंछ हरे रंग की होती है और इसकी चोंच लाल रंग की होती है। वह कृपालु और शालीन है। इसकी लंबाई करीब 12 से 14 इंच होती है। इनमें से कुछ पक्षियों के गले में लाल रंग की गर्दन होती है। उसकी आंखें चौड़ी हैं। इसकी चोंच घुमावदार और मजबूत होती है। चोंच की नोक में एक किनारा होता है। यह तोते को कड़े छिलके वाले फल खाने में मदद करता है। तोते की जीभ मोटी और मांसल होती है। तोता विभिन्न फलों या बीजों के खोल और छाल को जल्दी से हटा सकता है और इसके पैर की संरचना पेड़ पर बैठने के लिए उपयुक्त होती है।

तोता एक मानव-प्रेमी पक्षी है और तोतों के समूह में एक साथ रहता है और सभी पक्षियों में सबसे अधिक शोर करने वाला पक्षी माना जाता है। लोग इस पक्षी को पालतू पक्षी के रूप में रखते हैं। तोते अन्य पक्षियों और जानवरों की नकल करने में अच्छे होते हैं, यही वजह है कि वे इतने लोकप्रिय हैं। पक्षी देखने वालों के घरों में आपको तोते उनके पिंजरों में मिल जाएंगे। तोता अपने पेड़ के तने में रहना पसंद करता है।

मेरे पसंदीदे तोते पर निबंध 2021 | My Favourite Bird Parrot Essay In Hindi

यह ज्यादातर ऊंचे पेड़ों पर रहता है। तोते को कई तरह के मीठे फल पसंद होते हैं। जब तोतों के समूह आसमान में घूमते हैं तो नजारा लुभावना होता है। तोतों को ज्यादातर घरों में बोलना सिखाया जाता है। और वह हमें राम राम भी बनाते हैं। आपने कभी इसका अनुभव किया होगा। अफ्रीका में तोतों की कुछ प्रजातियां बहुत स्पष्ट रूप से बोलती हैं आपने तोते को सर्कस और भाग्य बताने वालों में देखा होगा। यह पक्षी बहुत बुद्धिमान होता है और अगर इसे पढ़ाया जाए तो यह आसानी से कोई भी भाषा सीख सकता है।

तो यह पक्षी किसी सर्कस से कम और भाग्य बताने वाला नहीं है। तोते तीस से चालीस साल तक जीवित रहते हैं कुछ तोते कई सालों तक जीवित रहते हैं। तोते को पंडित भी कहा जाता है क्योंकि यह बहुत चतुर दल होता है। कुछ लोग अपने पेट को पिंजरे में रखते हैं लेकिन ऐसा किए बिना उन्हें रिहा कर देना चाहिए क्योंकि उन्हें भी इंसानों की तरह आजादी का अधिकार है। इसलिए वह आसमान में ऊंची उड़ान भरना पसंद करेगा।

इसलिए किसी भी पक्षी को घर के अंदर पिंजरों में नहीं रखना चाहिए। आज लोग पलायन के लिए जंगलों को साफ कर रहे हैं, ऐसे पक्षियों के जीवन को खतरे में डाल रहे हैं। आजकल तोते या अन्य पक्षी प्रदूषण के कारण दुर्लभ होते जा रहे हैं। बढ़ते वायु और जल प्रदूषण के कारण ये पक्षी विलुप्त हो गए हैं। हालांकि, उनका अनुपात पहले की तुलना में अब काफी कम नजर आ रहा है।

आपको इन पक्षियों के लिए कुछ करना होगा। नहीं तो कुछ साल बाद आप इसे देख भी नहीं पाएंगे। हमें प्रकृति में ऐसे सुंदर पक्षियों का पालन-पोषण करना चाहिए और अपनी प्रकृति का पोषण करना चाहिए।

निष्कर्ष

दोस्तों हम अभी हमने आपको इस ब्लॉग में लिखकर बताया my favourite bird parrot essay in hindi। मैं आशा करता हूं कि यह निबंध आप क्या मदद कर पाया होगा। अगर इसी तरह के अन्य विषय पर निबंध चाहते हैं तो आप हमें कमेंट करें। my favourite bird parrot essay in hindi इस विषय को आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकि उन्हें भी स्कूल में दिए गए निबंध को आसानी से लिख पाए।

Leave a Comment

x