ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध 2021 | Global Warming Essay In Hindi

Global warming essay in hindi – आज मै आप को बताऊंगा कि how to write Global warming essay in hindi। ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध लिखना बहुत ही आसान है क्युकी इसके बारे में इस समय सभी को पता है कि global warming क्या होती है। मै पूरी कोशिश करूंगा कि मै आप के सवाल Global warming essay in hindi का पूरा सही जवाब दू।

ग्लोबल वार्मिंग बहुत ही ज्यादा बढ़ रहा है। आप को इस ब्लॉग से अपने Global warming essay का जवाब मिल जाएगा और आसानी से ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध लिख सकते है।

तो चलिए शुरू करते हैं Global warming essay in hindi

How to write global warming essay in hindi In 100,300 And 500 Word

100 शब्दो मे ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध | Global Warming Essay In Hindi In 100

ग्लोबल वार्मिंग इसका अर्थ होता है कि धरती के वायुमंडल और तापमान में बड़ोती। पिछले 5 शताब्दी हमारे धरती का तापमान 1°c बढ़ा है। और इसमें सबसे ज्यादा ग्लोबल वार्मिंग 20 वीं सदी में हुई थी। हमारे धरती का तापमान धीरे धीरे बढ़ता ही जा रहा है।

20 वी शताब्दी मे सबसे ज्यादा ग्लोबल वार्मिंग हुई है इसका कारण है ग्रीनहाउस से निकलने वाली गैस ,जिससे हमारे ग्लोबल वार्मिंग बढ़ती जा रही है। 20 वी शताब्दी मे हमारे धरती का तापमान बढ़ता जा रहा है
 
क्युकी 20 वी शताब्दी मे बहुत सारी कंपनियां से गंदी गैस, और गरम हवाएं निकलती है जिससे हमारे environment को बहुत असर पड़ा है और हमारी global warming बढ़ती जा रही है।

ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध - Global Warming Essay In Hindi In 100,300 And 500 Word

300 शब्दो मे ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध | Global Warming Essay In Hindi In 300 Words

Global warming से हमारे पृथ्वी का तापमान दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है ग्लोबल वॉर्मिंग हमारे वायुमंडल के तापमान बढ़ते जाते हैं जिससे हमारे पृथ्वी वासियों को दिक्कत होती है।

हमारे पृथ्वी पर ग्लोबल वार्मिंग बढ़ने का कारण है ग्रीन हाउस के गैसेस इसी वजह से हमारे पृथ्वी का तापमान धीरे-धीरे करके प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। 
पिछले 5 शताब्दी में हमारे पृथ्वी का 1 डिग्री सेल्सियस तापमान बढ़ा है और इसमें सबसे ज्यादा बीसवीं सदी शताब्दी मैं बड़ा है क्योंकि बीसवीं सदी में बहुत ही ज्यादा कारखाना शुरू हुए हैं जिनसे बहुत हीपृथ्वी का तापमान धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है।

ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध - Global Warming Essay In Hindi In 100,300 And 500 Word

ग्लोबल वार्मिंग की वजह से हमारे पृथ्वी के ऊपर जो ओजोन लेयर हैं वह दिन-ब-दिन कम होती जा रही है जिससे हमारे धरती पर सूर्य की किरणें डायरेक्ट आने की संभावना बढ़ती ही जा रही है। 
हमारे पृथ्वी पर सूर्य की किरणें जब आती है तो वह ओजोन लेयर से टकराकर सिर्फ अच्छी किरणें ही हमारी धरती पर आती है सूर्य की जो हानिकारक खड़े हैं वह हमारे ओजोन लेयर से टकराकर वहीं पर रह जाती है।

जब से ग्लोबल वार्मिंग बढ़ी है अर्थात हमारे पृथ्वी का तापमान जब से बढ़ा है तब से धीरे-धीरे हमारे ओजोन लेयर घटती जा रही है जिससे 1 दिन ऐसा हो सकता है कि सूर्य की किरणें हमारी धरती पर डायरेक्ट पड़े जो हमारे धरती के लिए सही नहीं होगा।

धरती पर रहने वाले मनुष्य पेड़ पौधों जानवरों को कम से कम 16 डिग्री तापमान चाहिए जीवित रहने के लिए लेकिन ग्लोबल वार्मिंग की वजह से यह तापमान 33 डिग्री तक बढ़ गया है जो यहां के लोगों के लिए सही साबित नहीं होगा।

ग्रीन हाउस के गैसों में ज्यादा से ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड होता है जो हमारे पर्यावरण अर्थात इन्वायरमेंट के लिए सही नहीं है इसी गर्म हवा की वजह से हमारा ग्लोबल वार्मिंग दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है।

also read – भ्रष्टाचार निबंध मराठी – Best Bhrashtachar Essay In Marathi In 100 , 300 And 500 Words

500 शब्दो मे ग्लोबल वार्मिग पर निबंध | Global Warming Essay In Hindi In 500 Words

ग्लोबल का अर्थ है पृथ्वी और वार्मिंग का अर्थ है गर्म| धरती के वातावरण के तापमान में लगातार हो रही बढ़ोतरी को ग्लोबल वॉर्मिंग कहते हैं ब्लॉक अलवर में हमारे देश के अलावा पूरे संसार के लिए बहुत बड़ी समस्या है और यह धरती के वातावरण पर लगातार बढ़ रही है

ग्लोबल वार्मिंग के कारण मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहे हैं इस परिवर्तन को देखते हुए वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि आने वाले समय में सूखा पड़ेगा बाढ़ की घटनाएं बढ़ेगी और मौसम पूरी तरीके बदलता हुआ नजर आएगा| ग्लोबल वार्मिंग का सबसे महत्वपूर्ण कारण इन हाउस कैसे हैं जो कुछ प्राकृतिक प्रक्रियाओं के साथ-साथ मानव गतिविधियों से उत्पन्न होती हैं|

ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध - Global Warming Essay In Hindi In 100,300 And 500 Word

मनुष्य द्वारा कार्बन डाइऑक्साइड और सल्फर डाइऑक्साइड दोनों गैसों का घरों में इस्तेमाल किया जा रहा है| इन गैसों को मुख्य रूप से फ्रिज और एसी में प्रयोग किया जाता है| जिसकी वजह से पानी और वातावरण को ठंडा किया जाता है लेकिन यह गैस वातावरण में मिल जाती हैं तो इतना असर उल्टा हो जाता है यह वातावरण को ठंडा करने की जगह पर गर्म कर देती है क्योंकि इसमें ऐसे पदार्थ होते हैं जो वातावरण में रेडियोएक्टिव को बढ़ा देते हैं|

हमारे पृथ्वी का तापमान अपने औसत तापमान से दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है इसका वजह ग्लोबल वार्मिंग ही है ग्लोबल वार्मिंग की सबसे बड़ी वजह कारखानों से निकलने वाले गैस होती हैं।
कारखाना से जो गैस निकलती है उनमें कार्बन डाइऑक्साइड बहुत ही भारी मात्रा में होती है जिसकी वजह से हमारी पृथ्वी का तापमान अपने औसत तापमान से बढ़ गया है ।

पिछले 5 शताब्दियों से हमारे पृथ्वी का तापमान धीरे धीरे बढ़ता जा रहा था और पिछले 5 शताब्दियों में हमारे धरती का तापमान 1 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया है जिसमें सबसे ज्यादा बीसवीं शताब्दी में हुआ है।

हमारे धरती पर सूर्य के खेलों का तापमान बहुत ही कम आता है क्योंकि हमारे पृथ्वी के चारों तरफ ओजोन लेयर लगी हुई है। सूर्य की हानिकारक किरणें पृथ्वी पर नहीं आ सकती हैं क्योंकि वह हमारे पृथ्वी के चारों और लगे ओजोन लेयर से टकराकर वापस चली जाती हैं और सिर्फ सूर्य की अच्छी किरणे ही हमारे धरती पर आती है।

जबसे ग्लोबल वार्मिंग बड़ी है तब से पृथ्वी की वह ओजोन लेयर धीरे-धीरे घटती जा रही है जिससे सूर्य की किरणें जो हमारे धरती के लिए हानिकारक है वह भी हमारे धरती पर आना शुरू कर देंगे।

ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध - Global Warming Essay In Hindi In 100,300 And 500 Word

ग्लोबल वार्मिंग को रोक सकते हैं अगर हम अपने घरों में फ्रिज और एसी का इस्तेमाल कम करें और घर के कचरे को इधर-उधर फेंकने से अच्छा उसे कूड़ेदान में डाल कर जलाएं| अगर अब मोटरसाइकिल की जगह पर सिर्फ साइकिल का इस्तेमाल करें इससे हमारे ग्लोबल वार्मिंग को रोकने में थोड़ी मदद होगी अगर ऐसा सभी लोग करने लगेंगे तो काफी हद तक ग्लोबल वार्मिंग कम हो जाएगी|

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आपको बताया global warming essay in hindi मैं आशा करता हूं कि आपको मेरा यह टॉपिक global warming essay in hindi पसंद आया होगा| अगर आपको अपने इस सवाल global warming essay in hindi से रिलेटेड कोई और जानकारी चाहिए तो आप कमेंट कर दीजिए हम आपको उसका जवाब अवश्य ही देंगे| आप आकर ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध के बारे में कुछ और बातें बताना चाहते हैं तो आप उसके लिए भी कमेंट कर दीजिए|

अगर आप कोई भी बिजनेस करना चाहते हैं तो असली ज्ञान वेबसाइट पर विजिट करें.

Read Also – कोरडा खोकला घरगुती उपाय – Khokla Gharguti Upchar in Marathi in 2021

Leave a Comment

x